' जय कुलदेवी ' मासिक समाचार पत्रिका

समाचार / विचार / लेख
' जय कुलदेवी ' मासिक समाचार पत्रिका , आरएनआई : 1303275 ,डाक पंजीयन क्रमांक - आरटीएम डीएन/एमपी/221/17 -19

मत्स्य, कूर्म और वराह अवतार – किस ओर संकेत करते हैं?

भारतीय परम्परा में भगवान के पहले अवतार को मत्स्य यानी मछली के रूप में जाना जाता है। इसके बाद कछुए और फिर सूअर और इस तरह ये क्रम आगे बढ़ता है। किस ओर संकेत करते हैं ये अवतार?

तृतीय अंतरराष्ट्रीय परिचय सम्मलेन

तृतीय अंतरराष्ट्रीय परिचय सम्मलेन, दिनांक 15 फरवरी 2018 , समय प्रातः 10 से सायं 5 बजे तक, स्थान दशहरा मैदान ,जावरा (म.प्र.)

कुलदेवी के दरबार में युवक-युवतियों ने परिचय दिया, हुई परिणय की बात

महामहिम राष्ट्रपति जी ने अन्य कार्यक्रमों में व्यवस्ता के कारण हमारा निमंत्रण स्वीकृत नहीं कर सके किन्तु महामहिम राष्ट्रपति जी ने शुभ कामनाये प्रेषित कि है जो कि हमारा प्रेरणा स्त्रोत रही है - विजय सिंह यादव

वीर सिपाही की अंतिम इच्छा

जब मेने आतंकवादियो कि गोली से मारे गये ,
वीर सिपाही के शरीर के पास से उसकी डायरी को उठाया ,
तो उसके संस्मरणों में मेने उसकी "अंतिम इच्छा " को इस तरहा लिखा हुआ पाया ,

परमात्मा से पहले कोई पूर्णता तुम्हें रोके तो रूकना नहीं।

रूकना थोड़े ही है। आगे जाना है परमात्मा से पहले कोई पूर्णता तुम्हें रोके तो रूकना नहीं ....

द्वितीय अंतरराष्ट्रीय परिचय सम्मलेन

द्वितीय अंतरराष्ट्रीय परिचय सम्मलेन : दिनांक 26 फरवरी 2017, समय प्रातः 10 से सायं 5 बजे तक, स्थान दशहरा मैदान ,जावरा (म.प्र.) ...

जय कुल देवी सेवा समिति ,रतलाम द्वारा दिनांक 09 -01 -2016 को दिव्य संगीतमय रामभक्ति रसमयी सुन्दर काण्ड , पितृ देव मन्दिर ,लक्ष्मी नगर, हरमाला रोड, रतलाम (म. प्र. ) पर आयोजित हुआ |

जय कुल देवी सेवा समिति ,रतलाम द्वारा दिनांक 09 -01 -2016 को दिव्य संगीतमय रामभक्ति रसमयी सुन्दर काण्ड , पितृ देव मन्दिर ,लक्ष्मी नगर, हरमाला रोड, रतलाम (म. प्र. ) पर आयोजित हुआ |

पितृ देव प्रसन्न भव महायज्ञ

पितृ देव प्रसन्न भव महायज्ञ

दिव्य संगीतमय श्रीमद् भागवत कथा ज्ञान गंगा महोत्सव

जय कुल देवी सेवा समिति ,रतलाम द्वारा आयोजित दिव्य संगीतमय श्रीमद् भागवत कथा ज्ञान गंगा महोत्सव 18 जून 2015 गुरूवार से 24 जून 2015 बुधवार को अम्बे माता मंदिर, लक्ष्मी नगर, हरमाला रोड, रतलाम (म. प्र. ) में सम्पन्न हुआ, कथा वाचक पं.नन्दकिशोर व्यास |

प्रथम दिव्य ऐतिहासिक सामूहिक विवाह सम्मलेन और श्री कृष्ण-तुलसी विवाह महोत्सव

प्रथम दिव्य ऐतिहासिक सामूहिक विवाह सम्मलेन और श्री कृष्ण-तुलसी विवाह महोत्सव दिनांक 21 अप्रेल 2015,मंगलवार को रतलाम (म.प्र.) में सम्पन्न हुआ